Shubh Muhurat 2022

Shubh Muhurat 2022: आज से शुरू होंगे शुभ काम लेकिन 8 नवंबर से मिलेगा पूरा लाभ- New Best Direct Link!

Shubh Muhurat 2022: देवउठनी एकादशी के दिन से ही सभी मंगल कार्य शुरू हो जाते हैं शास्त्रों की मान्यता के अनुसार कार्तिक मास की एकादशी तिथि को भगवान विष्णु योग निद्रा से जागते हैं और पृथ्वी लोक का संचालन करते हैं। इसके साथ ही कार्तिक मास की एकादशी तिथि से सभी प्रकार के शुभ कार्य जैसे कि विवाह, मुंडन, गृह प्रवेश इत्यादि शुरू हो जाते हैं। 

Join On Telegram

इस बार देवउठनी एकादशी कल यानि 4 नवंबर को है, लेकिन इस एकादशी को शुक्र ग्रह अस्त है. शुक्र विवाह का कारक ग्रह है। इस वर्ष देवउठनी एकादशी से विवाह का मुहूर्त नहीं बन रहा है. 21 नवंबर को शुक्र उदय होने पर शुभ कार्यों का आगमन होगा। इसके साथ ही इस समय ग्रह गोचर के अनुसार मंगल कार्य का प्रतिनिधित्व करने वाला मंगल ग्रह भी वक्री है। जो कि 13 जनवरी तक उलटी चाल भी चलेगी। इसके साथ ही गुरु ग्रह भी 24 नवंबर तक वक्री चल रहा है, कुल मिलाकर देवउठनी एकादशी के बाद भी किसी प्रकार का मंगल कार्य या शुभ दिन होना संभव नहीं है।

Shubh Muhurat 2022
Shubh Muhurat 2022

इसके साथ ही एक और बहुत बड़ी खगोलीय घटना जैसे एक ही तरफ दो ग्रहों की दृष्टि का होना भी शुभ संकेत नहीं है। पहला ग्रहण जो सूर्य ग्रहण था। 25 अक्टूबर दीपावली का अगला दिन था और दूसरा चंद्र ग्रहण जो 8 नवंबर को कार्तिक मास की पूर्णिमा के दिन लगेगा। इस ग्रहण का प्रभाव आम आदमी के जीवन पर बहुत अच्छा नहीं रहेगा क्योंकि एक ही पखवाड़े में दो ग्रहण विश्व की शांति के लिए उपयुक्त नहीं हैं। 

READ MORE  Delhi Ladli Yojana 2022 (दिल्ली लाडली योजना 2022)-सरकार दे रही है बालिकाओं को 36000 रुपए जल्दी करें आवेदन-Very Useful

तो चलिए मान लेते हैं कि देवउठनी एकादशी 4 नवंबर को होने के बावजूद ग्रहों की सबसे अच्छी स्थिति और दिशा 8 नवंबर को ग्रहण के समय के बाद ही आपके पक्ष में होगी। 8 नवंबर के बाद, 15 दिनों के भीतर ग्रहण का प्रभाव धीरे-धीरे कम हो जाएगा। और इसके साथ ही शुक्र का वृश्चिक राशि में प्रवेश, गुरु ग्रह का मार्ग, सूर्य और बुध का परिवर्तन भी शुभ संकेत लाएगा और उसके बाद विवाह आदि का मुहूर्त निकाला जाएगा।

हाल के समय में न केवल शुभ कार्य किए जा सकते हैं, बल्कि वर्तमान समय में किए गए उपाय भी बहुत अच्छे परिणाम नहीं दे रहे हैं। 8 नवंबर तक हमें अधिक से अधिक मंत्र जाप और पूजा-अर्चना कर सकारात्मक ऊर्जा के प्रवाह को बढ़ाना चाहिए, ताकि इस ग्रहण का दुष्प्रभाव कम से कम पृथ्वीवासियों पर पड़े।

निष्कर्ष – Shubh Muhurat 2022

इस तरह से आप अपना Shubh Muhurat 2022 में आवेदन  कर सकते हैं, अगर आपको इससे संबंधित और भी कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं |

दोस्तों यह थी आज की Shubh Muhurat 2022 के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको Shubh Muhurat 2022  , इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |ताकि आपके Shubh Muhurat 2022 से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके|
 
तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें Shubh Muhurat 2022 पोर्टल की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|

READ MORE  UP Board 12th Exam Date 2022, Upmsp.edu.in XII Time Table

Important Links (महत्वपूर्ण लिंक्स)

Home Page Click Here
Join Us On Telegram Join Now
Read more:-👇👇
x